Devdutt Pattanaik

अपने-अपने वनवास

रामायण में अन्य राजपुत्रों के साथ सुकुमार श्रीराम को भी सीता-स्वयंवर में आमंत्रित करके शिव के धनुष पर प्रत्यंचा चढाने के लिए कहा जाता है. यदि राम इसमें सफल रहेंगे तो उनका विवाह सीता से हो जाएगा. राम धनुष को… Read More ›

मैं कोई सांख्यिकीय नहीं हूं!

श्री देवदत्त पटनायक का यह आलेख अंग्रेजी अखबार कॉरपोरेट डॉज़ियर ईटी में 4 फरवरी,  2011 को प्रकाशित हो चुका है. उनकी अनुमति से मैं इसका हिंदी अनुवाद करके यहाँ प्रस्तुत कर रहा हूँ. यदि आप मूल अंग्रेजी आलेख पढना चाहें… Read More ›

नेत्रहीनों की संतानें

श्री देवदत्त पटनायक का यह आलेख अंग्रेजी अखबार कॉरपोरेट डॉज़ियर ईटी में 5 नवम्बर,  2010 को प्रकाशित हो चुका है. उनकी अनुमति से मैं इसका हिंदी अनुवाद करके यहाँ प्रस्तुत कर रहा हूँ. यदि आप मूल अंग्रेजी आलेख पढना चाहें… Read More ›

हिंदू विवाह पद्धति का विवेचन

श्री देवदत्त पटनायक का यह आलेख अंग्रेजी पत्रिका ‘फर्स्ट सिटी’ में 11 जनवरी, 2011 को प्रकाशित हो चुका है. उनकी अनुमति से मैं इसका हिंदी अनुवाद करके यहाँ प्रस्तुत कर रहा हूँ. यदि आप मूल अंग्रेजी आलेख पढना चाहें तो यहाँ क्लिक करें…. Read More ›

आध्यात्मिक LSD

श्री देवदत्त पटनायक का यह आलेख अंग्रेजी अखबार टाइम्स ऑफ इण्डिया के स्तंभ ‘स्पीकिंग ट्री’ में १२  नवम्बर, २०१० को प्रकाशित हो चुका है. उनकी अनुमति से मैं इसका हिंदी अनुवाद करके यहाँ प्रस्तुत कर रहा हूँ. यदि आप मूल अंग्रेजी आलेख… Read More ›

देवदत्त पटनायक: पूरब-पश्चिम – मिथकों की मिथ्यता

श्री देवदत्त पटनायक का यह व्याख्यान मैंने TED.com की कॉपीराईट नीति के प्रावधानों के तहत यहाँ पोस्ट किया है. इसका अनुवाद मैंने नहीं किया है. वीडियो के नीचे  अनूदित पाठ दिया गया है. आप चाहें तो हिंदी सबटाइटल्स सक्रिय कर… Read More ›

Follow

Get every new post delivered to your Inbox.

Join 7,778 other followers