नील पसरीचा और 1,000 Awesome Things

नील पसरीचा शानदार ब्लौगर हैं. उनके ब्लॉग 1,000 Awesome Things पर प्रतिदिन हजारों लोग छोटे-छोटे शानदार लम्हे पढ़ने आते हैं जिनकी ओर आमतौर पर हम ध्यान नहीं देते. ये वे लम्हे या बातें हैं जो अनायास ही हमें छोटी सी ख़ुशी सौंप देतीं हैं, हमारे चेहरे पर मुस्कान लाती हैं, हमारा दिल लुभा लेती हैं. ये पल भर में ही काफूर हो जानेवाले लम्हे हैं जिन्हें इतनी जल्दी बिसरा दिया जाता है कि उनकी कीमत का अंदाजा ही नहीं लग पाता.

नील के ब्लॉग पर उन्होंने तय किया है कि वे ऐसी एक हज़ार बातें हमारे सामने पेश करेंगे जिनके बारे में जानते तो हम सभी हैं पर उनके लिए कभी संजीदगी से नहीं सोचते. जून-2008 से उलटे क्रम से 1,000 से शुरू करते हुए ऐसी बातों की श्रृंखला अभी 320 तक आ गई है और कुछ समय बाद ऐसी हज़ार बातों की फेहरिस्त पूरी हो जायेगी. इनमें से बहुत सी चीज़ें नील के पाठकों ने उन्हें सुझाई हैं. उनकी लिस्ट से रैंडम आधार पर चुने गए कुछ लम्हों की बानगी देखिये, ये सिर्फ शीर्षक हैं जिनपर क्लिक करके आप उन्हें नील के ब्लॉग पर अंग्रेज़ी में पढ़ सकेंगे:

#973 Sleeping in new bed sheets
#946 The first shower you take after not showering for a really long time
#919 Hitting a bunch of green lights in a row
#910 When you arrive at your destination just as a great song ends on the radio
#905 Using all the different shampoos and soaps in someone else’s shower
#850 Absolute perfect silence
#831 When someone names their kid after you
#757 Taking your shoes off on a long car ride
#716 Rubbing someone’s newly shaved head
#705 When you’re sitting in the backseat of a packed car and the driver takes a turn really fast
#507 Riding on someone’s shoulders when you were a kid

देखा आपने? मैंने अब तक उनकी साईट पर छप चुकी लगभग सात सौ बातों में केवल दस बातें ही हड़बड़ी में चुनीं हैं पर यह पूरी लिस्ट कमाल की है. इसकी देखादेखी इंटरनेट पर बहुत से लोगों ने अपनी-अपनी तरह की विभिन्न लिस्टें बनाईं हैं जिनमें लोगों ने अपनी पसंद-नापसंद को लोगों से दिल खोलकर शेयर किया है.

नील के ब्लॉग पर अब तक ढाई करोड़ से भी ज्यादा आगंतुक आ चुके हैं. इस ब्लॉग को इंटरनेट का सबसे प्रतिष्ठित Webby Awards दो बार मिल चुका है. नील द्वारा चुने हुए बेहतरीन लम्हों और बातों की किताब को रैंडम हाउस/पेंग्विन ने छापा है और यह किताब महीनों तक बैस्टसेलर रही है. इस किताब का दूसरा भाग जल्द ही प्रकाशित होनेवाला है. नील की इज़ाज़त से मैं उनके ब्लॉग से कुछ चुनिन्दा लम्हों का अनुवाद करके हिंदीज़ेन में प्रस्तुत करूंगा.

नील आज शानदार ज़िंदगी बिता रहे हैं पर ऐसा हमेशा से नहीं था. निजी जीवन में वे बहुत व्यथित रह चुके हैं पर उनके बुलंद हौसलों और आत्मबोध ने उन जैसे संवेदनशील व्यक्ति को बिखरने नहीं दिया. वे स्वयं को अभी भी “an average guy” ही बताते हैं.

नील के अनुसार “Awesome Thnings” या शानदार चीज़ें वे हैं जो रोज़मर्रा मिलनेवाली छोटी-छोटी खुशियाँ हैं. TED की साईट पर उनके नीचे दिए गए वीडियो में उन्होंने अपनी “The Awesome Story” बताई है जिसे आप नीचे दिए गए वीडियो में सुन सकते हैं. इसका हिंदी अनुवाद या सबटाइटल्स अभी उपलब्ध नहीं है जिसके लिए शायद मुझे ही प्रयास करने होंगे. वीडियो देखते समय आप इसके अंग्रेजी सबटाइटल्स चालू कर सकते हैं.

अपने जीवन के बारे में बताते समय हम नील की बातों में ईमानदारी की झलक देख सकते हैं.  बड़े रोचक घुमाव लेते हुए नील बताते हैं कि एक रात अनायास ही अपनी मुश्किल ज़िंदगी में कुछ राहत ढूंढने की इच्छा से अपना ब्लॉग शुरू किया जिसे लंबे अरसे तक केवल उनकी मां ही पढ़ती थीं.  नील की ब्लॉगिंग में सफल लेखक बनने की कहानी रोचक और प्रेरक है. नील से बहुत कुछ सीखा जा सकता है – सबसे बड़ी बात – ज़िंदगी में फूल हैं तो कांटें भी हैं.

मैं चाहता हूँ कि हम भी अपने जीवन में सहजता और जागरूकता के साथ खुशियों के लम्हे संजोते रहें. तमाम मुश्किलात से भरी दुनिया में कदम-कदम पर जादू और खुशनुमा रंग भी बिखरे पड़े हैं, जिनसे हम अनजान हैं. हर तरह की तकलीफ और जंजाल के बावजूद यह ज़िंदगी और दुनिया बेहद हसीन और कीमती है… आप इस समय यह पोस्ट पढ़ रहे हैं और आपके भीतर भी कोई महक, कोई गीत जाग रहा हो तो क्या आप मेरी बात को झुठला सकते हैं?

Advertisements

About Nishant Mishra

Nishant studied art history and literature at the university during 1990s. He works as a translator in New Delhi, India and likes to read about arts, photography, films, life-lessons and Zen.

There are 12 comments

  1. रंजना

    आपके ब्लॉग के माध्यम से आपके अध्ययन मनन चिंतन की जो धारा अभी तक देखी है , मन आह्लादित और नतमस्तक हो जाता है..

    सुख का मार्ग आपने पकड़ लिया है और औरों को भी इससे जोड़ने की जो आपकी मुहिम है, ईश्वर से मानती हूँ कि आपका यह प्रयास पूर्ण रूपेण सार्थक सफल हो…

    ब्लॉग/पुस्तक का हिन्दी में अनुवाद करने का आपका निर्णय बहुत सही है…

    हम प्रतीक्षा करेंगे कड़ियों का..

    ईश्वर आपको सदैव सकारात्मक और सुखी रखें…

    Like

  2. Rajiv

    फिर से कहूँगा , अगर आप छोटी छोटी बातों से खुश होना सीख ले तो जिंदगी कभी भी आपको निराश नहीं कर सकती
    इस शानदार प्रस्तुती के लिए धन्यवाद बंधू 🙂
    ~R
    http://rrajivhind.wordpress.com

    Like

टिप्पणी देने के लिए समुचित विकल्प चुनें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s